modi fatwa

देश के प्रधानमंत्री पर फतवा निकालने वाले मौलवी और गूंगी ममता सरकार को हमारा तगड़ा जवाब!

Posted on Posted in Other
कोलकाता की टीपू सुल्तान मस्जिद के शाही इमाम सैयद मोहम्मद नूरुर्रहमान बरकती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर एक विवादित ‘फ़तवा’ जारी किया है.
 
सोशल मीडिया और कई अख़बारों की वेबसाइट पर प्रसारित एक वीडियो में सैयद मोहम्मद नूरुर्रहमान बरकती प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में कथित तौर पर आपत्तिजनक फ़तवा जारी करते दिख रहे हैं जिसमें उन्होंने ‘बेहद अभद्र भाषा’ का इस्तेमाल किया है जिसे यहां प्रकाशित नहीं किया जा रहा है.
 
इमाम इसमें ये भी कह रहे हैं कि नोटबंदी के नाम पर नरेंद्र मोदी ने देश को बेवकूफ़ बनाया है और लोग अब उन्हें प्रधानमंत्री नहीं देखना चाहते हैं.
 
उन्होंने कहा कि वो चाहते हैं कि ममता बनर्जी देश की प्रधानमंत्री बने.
 
पश्चिम बंगाल भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष ने बीबीसी संवाददाता दिलनवाज़ पाशा से कहा, “मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के क़रीबी लोग प्रदेश के माहौल को सांप्रदायिक कर रहे हैं. टीएमसी की भाषा इमाम के मुंह से बुलवाई जा रही है.”
 
उन्होंने कहा, “प्रधानमंत्री के बारे में दिए गए इस बयान से समाज में अव्यवस्था फैल सकती है. हमारी पार्टी भी इसका विरोध करेगी.”
 
इतना सब हो जाने के बाद हम ममता बनर्जी से सिर्फ इतना ही कहना चाहेंगे कि आज़ादी से पहले कुछ गद्दार हमारे देश में ही रुक गए थे,मगर वो गद्दार भी आज ममता बनर्जी की मूर्ती पर सर झुकाते होंगे!अरे,माफ़ कीजियेगा,इस्लाम में तो मूर्ती पूजन हराम है,आपकी तो दरगाह पर चादर चढ़ेंगी।
ममता बनर्जी की गूंगी सरकार ने नपुंसकता की वी सीमायें लाँघी है जिसे देखकर कांग्रेस की शरमा जाये।
 
देश में छद्मसेक्युकरवाद का जो गन्दा और नँगा नाच पिछले कुछ सालों से ममता बनर्जी और सेक्युलर बनने का ढोंग रचने वाली पार्टियां दिखाती आ रही है,राष्ट्रवादियों को देख पीड़ा के साथ क्रोध भी अवश्य आता होगा।
 
ममता बनर्जी बंगलदेशी मुसलमानों को बंगाल में घुसा कितना भी अल्लाह हु अकबर कर ले,मगर देश में छद्मसेक्युकरवाद के कपड़े अब जनता के समक्ष उतर चुके हैं।
2014 का चुनावी नतीजा उसका एक जीता जागता प्रमाण है।
 
 
मोदी को फतवा देने वाले ने दी तारेक फतह का सर काटने की धमकी लाइव TV पर 

Related Posts

Also READ  जानिए आख़िर कैसे भारतीयों ने सुषमा स्वराज को दिया माँ का दर्जा...