…तो क्या नोटबंदी करके मोदी जी ने कश्मीर बचा लिया?

Posted on Posted in Politics
9:29 pm

नोटबंदी से पहले भारत की स्थिति कितनी गंभीर हो चुकी थी इस बात का कइयों को अंदाजा तक नहीं है। मगर श्रीनगर के बैंकों से आये डेटा के बारे में जानकार आपके पैरों तले जमीन ही खिसक जायेगी। श्रीनगर के बैंकों से आये डेटा के बारे में बताया जा रहा है कि नोटबंदी से पहले वहां के बैंको में जमा होने वाली रकम में लगभग 43 प्रतिशत नकली करेंसी थी।

 

kashmir demonetization

 

 
ये आकड़ा इतना चोंकाने वाला है कि हिसाब लगाया जाए तो पता चलता है कि पाकिस्तान ने कश्मीर घाटी की अर्थव्यवस्था को करीब-करीब तबाह ही कर डाला था। कश्मीर में पाकिस्तान से आयी नकली करेंसी चलती थी ये तो सबको पता था मगर उसका फैलाव इतना अधिक हो गया होगा ये किसी ने दूर-दूर तक सोचा नहीं था।
 
इसी नकली करेंसी को कश्मीर में खपा कर नवयुवकों को पत्थरबाजी करने के लिए पैसे दिए जाते थे। यही कारण है कि नोटबंदी के बाद से पत्थरबाजी पर लगाम लग गयी और महीनों से अशांत कश्मीर में शान्ति लौट आयी। जानकारों के मुताबिक़ नकली नोटों के पूरी तरह से ख़त्म हो जाने पर कश्मीर में स्थायी रूप शांति व्याप्त हो जायेगी।
 
एक वक़्त था जब गुजरात में प्रतिवर्ष दंगे हुआ करते थे, छोटी-छोटी बात पर दंगे हो जाते थे। नरेंद्र मोदी के गुजरात का मुख्यमंत्री बनते ही वहाँ भी स्थायी तौर पर शान्ति व्याप्त हो गयी और पिछले कई वर्षों से वहां कर्फ्यू नहीं लगा। ऐसा ही कमाल मोदी जी ने कश्मीर में भी कर दिखाया है।
 
 
क्या आप कश्मीर से धारा 370 ख़त्म करने के पक्ष में हैं? अपनी राय आप कमेंट द्वारा शेयर कर सकते हैं।
 
एक ऐसा फैसला जिसने अपने ही देश के एक भाग को एक अलग देश के रूप में स्थापित कर दिया,क्या राजनैतिक रूप से एक बेहद घटिया फैसला नही था?
अपनी राय कमेंट में अवश्य दें,और अपने मित्रों और सगे संबंधियों को भी ये खबर दें ताकि वो किसी झाँसे में न आ सके।आप और हम मिलकर कदम उठाएं और मोदी जी का साथ दें तभी देश विकास कर सकता है।

Related Posts

Also READ  मोदी जी के खिलाफ फ़र्ज़ी सबूतों पर कोर्ट ने लगाई प्रशांत भूषण को फटकार

Comments

comments