आप आलोचक की हद को पार करके घृणित- निंदक बनकर PM की आलोचना कैसे कर सकते हैं…?

Posted on Posted in Politics

व्यक्तिगत रूप से आप बीजेपी के विरोधी हो सकते हैं। बीजेपी की नीतियों के विरोधी हो सकते हैं, ये
एक सामान्य प्रकिया है.. और इसमें कुछ गलत भी नहीं है… परंतु आप आलोचक की हद को पार करके घृणित-निंदक बनकर PM की आलोचना कैसे कर सकते हैं…?

 

आइए पहले देखते है कि लोग किस हद तक ज़मीनी हक़ीकत भूल कर एक सम्मानीय पद के लिए अभद्र से अभ्द्र शब्दावली का इस्तेमाल कर सकते है…..!!

 

 

आप उस व्यक्ति की आलोचना कर रहे हैं जो लगभग 15 सालों से CM के बाद, अब PM रहते हुए भी अपनी सैलेरी राष्ट्र को दान करता आ रहा है, PM हाउस में अपना खर्चा स्वं उठाता आ रहा है..। PM की निंदा-रस में डूबते समय क्या आपको खयाल आया है कि क्या आपने कभी 1 महीने की सैलेरी राष्ट्र को दान किया है…?

 

240 rs. की LPG-Subsidy तो हम छोड़ नहीं पाते, बाकी.. क्या हम में हिम्मत है 1 साल की सैलेरी राष्ट्र को दान कर दें…?* तो फिर आप उस व्यक्ति की निंदा कैसे कर सकते हैं जो 15 सालों से ये सब करता आ रहा है….?

 

3 बार गुजरात का CM रहने के बावजूद किसके पास कोई बड़ी संपत्ति नहीं है, परिवार को भी जिसने VIP सुविधाओं से महरूम कर रखा है । जिस PM के विदेशी दौरों को आप सिर्फ घूमने फिरने का नाम देते हैं जबकि असली उदेश्य व्यापारिक समझौते और आपसी सम्बन्ध को सुधारना  होता है।

 

एक 66 साल का व्यक्ति 6 दिन में 5 देशों की यात्रा करता 40 महत्वपूर्ण मीटिंग में भाग लेता है। देश का पैसा बचाने के लिए ऐसी प्लानिंग करता है जिससे होटल में कम से कम रुका जाए, और, फ्लाइट में नींद पूरी की जाये…. उसके दौरे को आप सिर्फ भ्रमण का नाम देते हैं..? वैश्विक मंदी और ख़राब मौसम की मार  झेलने की बाद भी देश पर आंशिक प्रभाव पड़ा है… और देश आगे बढ़ रहा है,क्या इतना काफी नहीं है..? काँग्रेस द्वारा 60+ सालों से किये गये गड्ढे  क्या 2 साल में भर जायेंगे..? अभी तक कांग्रेस की सरकारों से अगर 25% भी हिसाब माँगा जाता, तो ये दिन देखने नहीं पड़ते..

 

अगली बार PM की निंदा करने से पहले  उनके गिरेबान में झांककर देखें और तुलना करें कि जिसकी आप निंदा कर रहे हैं, क्या उसके पैरों की धूल के बराबर वो सब जो परिवार वाद की राजनिती कर रहे हैं या नहीं..? कितने शर्म की बात है….. एक तरह जिस व्यक्ति को
सारा विश्व सम्मान दे रहा है….वहीं दूसरी तरफ कुछ लोग (जो उसी देश के हैं) उसी सम्मान को गलत साबित करने पर तुले हैं…

 

आइये देखते हैं एक सच्चे राष्ट्रभक्त ने कैसे मोदी जी की जीवनी का बखान किया है 

 

 

जानकारी तुरंत पाने के लिए अपना व्हाट्सएप्प no बॉक्स में लिख कर सबमिट करें [ADD-SUBSCRIPTION-WHATSAPP]