राजस्थान सरकार की नई योजना अन्नपूर्णा रसोई,5₹ और 8₹ में गरीबों को खाना!

Posted on Posted in Politics
 
अन्नपूर्णा रसोई 
 
राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने सड़क किनारे खड़ी मोबाइल वैन रसोई से खाना ऑर्डर किया और जनता के बीच खड़े होकर खाने का लुत्फ उठाया। पूरे चाव से खाते हुए खाने की पूरी थाली खत्म कर दी। आखिर करें भी क्यों ना, उनकी अपनी योजना का सवाल जो था। दरअसल, ये राजस्थान सरकार की अन्नपूर्णा रसोई योजना के उद्घाटन का मौका था। इस योजना का मकसद गरीबों और मजदूरों को कम कीमत पर खाना मुहैया कराना है।
 
 
वसुंधरा राजे ने इस योजना के बारे में बात करते हुए कहा कि इसे 12 जिलों में 80 जगहों पर शुरू कर रहे हैं। इस योजना के तहत गरीबों को महज 5 रुपए में नाश्ता और 8 रुपए में पौष्टिक खाना मुहैया कराया जा रहा है। बता दें कि तमिलनाडु की अम्मा कैंटीन की तर्ज पर ही इस योजना की शुरूआत की गई है और एक खास तबके को ध्यान में रखते हुए कीमतें काफी कम रखी गईं है।
 
सरकार की इस योजना से लोग काफी खुश हैं। अब उन्हें कम कीमत पर अच्छा खाना मिल रहा है। फिलहाल इस योजना की शुरुआत 12 जिलों में की गई है जहां मोबाइल वैन पर 80 अन्नपूर्णा रसोई खोली गई हैं। सरकार की योजना राज्य के सभी 33 जिलों में 300 अन्नपूर्णा रसोई खोलने की है।
 
गौरतलब है तमिलनाडु में भी अम्मा कैंटीन में गरीबों को 1₹ में चावल और 2₹ में साम्भर मिलता है।
राजस्थान की बीजेपी सरकार द्वारा उठाया गया ये कदम सच में सराहनीय है।
अब देखना ये है कि इस देश का नेतृत्वहीन विपक्ष सरकार की इस योजना का किस तरह से विरोध करती है क्योंकि इससे पहले भी मोदी सरकार की जनधन योजना का विपक्ष ने जमकर मज़ाक और मखौल उड़ाया था!