अफवाह!अफवाह!अफवाह! देखें ₹1000 कि नोट पर फैलाये जा रहे झूठ का सच!

Posted on Posted in Politics
पीएम मोदी द्वारा नोटबंदी के ऐलान के बाद चलन में आया दो हजार का नोट भी अब कर दिया जाएगा और फिर दोबारा से एक हजार का नया नोट मार्केट में आ जाएगा। वहीं अब अधिकतम नगदी जमा सीमा अब पचास हजार की होगी और वो भी मात्र दस दिन के लिए। इसके बाद से ये दो हजार के नए नोट मान्य नहीं रहेंगे। इसलिए दो हजार का नोट स्टोर ना करें।
 
दरअसल में ये एक व्हाट्सएप मैसेज है जो वायरल हो रहा है। मैसेज करने वाले ने एक हजार के पांच नए नोटों की तस्वीर व्हाट्सएप पर डाली हो कहा कि ये 1000 के नए नोट है जो जल्द ही चलन में आएंगे और 2000 के नोट पूरी तरह से बंद कर दिए जाएंगे। मैसेज में यह भी कहा गया है कि 2000 के नोट का मकसद संगठित तरीके से कालेधन को सफेद करने वालों को पकडऩा था।
 
व्हाट्सएप पर वायरल हुए 1000 के नए नोट के मैसेज को कोरी अफवाह करार देते हुए आरबीआई ने कहा है कि ऐसी कोई योजना नहीं है। गौरतलब है कि इससे पहले भी आरबीआई ने एक हजार के नए नोट की फोटो पर सवाल उठाए थे। एक हजार के नए नोट में कई मिसप्रिंट थी। वहीं आरबीआई ने ऐसा कोई भी नया नोट नहीं जारी कर रहा है।
 
मैसेज में वायरल हो रहे 1000 के नए नोट की छपाई बेहद साफ है लेकिन ब्लू थीम की बजाय इस बार कुछ ग्रीन भी शामिल है। बीच में महात्मा गांधी की तस्वीर के साथ दाहिनी तरफ नीचे अशोक की लाट थी। इस नोट पर भी रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया लिखा है। इस नोट पर भी वाटर मार्क और सिक्युरिटी थ्रेड बना हुआ है। अब अगर ये नोट वाकई असली है तो निश्चित रूप से रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया में गहरा लो फॉल्ट है। जिसका विपक्ष लगातार दावा कर रहा है।