Supreme court of India

सुप्रीम कोर्ट ने वकील को लगाई लताड़ सोनिया गाँधी का नाम लेने पर

Posted on Posted in Politics

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्य सचिव नीरा यादव, जो एक भूमि धोखाधड़ी के मामले में दोषी पाया गया है , के वकील ने सुप्रीम कोर्ट मे कार्यवाही के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के नाम को छेड़ने के लिए सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने जमकार फटकार लगाई.

यादव ने आपराधिक साजिश और नोएडा में औद्योगिक और संस्थागत इकाइयों के लिए भूखंडों के आवंटन से संबंधित एक मामले में भ्रष्टाचार के लिए एक चार साल की जेल की सजा के खिलाफ शीर्ष अदालत में एक अपील दायर की थी।

उसी मामले पर सोमवार को सुनवाई के दौरान, एडवोकेट -ऑन- रिकॉर्ड प्रकाश कुमार सिंह ने दलील दी की दोनो वकील उपलब्ध नहीं है और स्थगन की मांग की। “श्री गोपाल सुब्रमण्यम अस्वस्थ है। अन्य वरिष्ठ अधिवक्ता सुश्री सोनिया गांधी से एक जरूरी फोन आने के कारण उन्हे अदालत छोड़कर जाना पड़ा , ” सिंह ने कहा।

Also READ  रवीना टण्डन का कट्टरपंथियों को जवाब,उड़ गए टीवी एंकर के होश

 

“What do you think the name should have an effect on us? What do you want to tell us? Is it a show-off or do you want to influence us? We will not tolerate this,” said Justice Khehar. He said it was “totally unfair and wrong” on the part of the lawyer to have dropped Sonia’s name since the court “is not interested in knowing anything beyond the case”.

 

“तुम्हें क्या लगता यह नाम हम पर असर डाल सकता है? आप हमें बताना क्या चाहते हैं? यह एक दिखावा है या आप हमें प्रभावित करने की कोशिश कर रहे हैं? हम यह बर्दाश्त नहीं करेंगे, ” न्यायमूर्ति खेहर ने कहा। उन्होंने कहा कि सोनिया गाँधी का नाम लेना  ‘ पूरी तरह से अनुचित और गलत’ है, और अदालत को “मामले से परे कुछ भी जानने में कोई दिलचस्पी नहीं है।”

उसके बाद जज ने केस की सुनवाई करने से माना कर दिया और उन्हे किसी और बेंच के सामने केस रखने की सलाह दी.

Also READ  राम मंदिर के मुद्दे पर मुसलमानों का एक और विकेट गिरा