vijay-rupani-cm-gujrat-modi

गुजरात मे दूसरा नरेन्द्रा मोदी जन्म लेने के लिए हो चुका है तैयार- RSS कार्यकर्ता बना गुजरात का मुख्यमंत्री

Posted on Posted in Politics
1:36 am

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विजय रूपानी गुजरात के अगले मुख्यमंत्री होंगे । वरिष्ठ मंत्री नितिन पटेल , जो कि मुख्यमंत्री पद की दौड़ मे सबसे आगे थे, उन्हे अब उप मुख्यमंत्री से समझौता करना होगा । विधायक दल की बैठक के दौरान अमित शाह ने यह फ़ैसला लिया.

आइए कुछ नज़र डालते हैं विजय रूपानी जी के राजनैतिक जिंदगी पर…

 

vijay-rupani-rss

 

श्री रूपानी जी एक जैन परिवार मे पैदा हुए और उनका बचपन सौराष्ट्र में बीता। अपनी राजनीतिक यात्रा की शुरुआत उन्होने राजकोट में विश्वविद्यालय के दिनों के अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) मे शामिल होकर की और आपातकाल के दौरान जेल भी गये । ” रूपानी सही समय पर सही जगह पर सही आदमी होने की एक आदत है। वो केशुभाई पटेल जब मुख्यमंत्री थे तब उनके काफ़ी करीबी थे । फिर वह नरेंद्र मोदी के विश्वस्त सहयोगी बन गया जब मोदी मुख्यमंत्री बने और अब वह पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के एक विश्वासपात्र है, ” सौराष्ट्र के एक वरिष्ठ आरएसएस नेता ने कहा।

Also READ  बुलंदशहर कांड मे सभी का मौन समर्थन..क्योकि पीड़ित हिंदू हैं इसलिए?

उन्होंने राजकोट में पार्षद के रूप में सेवा की है और शहर के मेयर बन गए , लेकिन वह दस साल के लिए वहां से चुनाव नहीं लड़ पाए क्योकि वह सीट पार्टी के बड़े नेता वजूभाई वाला के नाम पे थी.

विजय रूपानी वर्ष 2006 में राज्य सभा के सदस्य के रूप में निर्वाचित किए गये. अगस्त 2014 में, जब वजूभाई वाला , गुजरात विधान सभा के स्पीकर से कर्नाटक के राज्यपाल बने , और राजकोट पश्चिम सीट खाली हुई तब विजय रूपानी को मौका मिला उनकी खाली सीट पर चुनाव लड़ने के लिए । उन्होने इसका पूरा लाभ उठाते हुए कांग्रेस उम्मीदवार जयंती कलारिया को लगभग 25,000 मतों के अंतर से कुचल द्वारा उपचुनाव जीता।

पार्टी कार्यकर्ताओं के अनुसार विजय रूपानी कार्यकर्ताओं को खुश रखने के लिए और सरकारी मुलाज़िमो से काम सुचारू रूप से करवाने मे सक्षम हैं , जो की दुर्लभ गुण है।

हम उन्हे शुभकामनाएँ देते हैं.

 

vijay-rupani-bjp-cm

Related Posts

Also READ  उत्तर प्रदेश में भाजपा के लिए आये ये चौकाने वाले समीकरण जो प्रधानमंत्री मोदी की आँधी की एक बानगी भर है। कांग्रेस,सपा का बुरा हाल।

Comments

comments